बिलासपुर । जिले में कोरोना की रफ्तार धीमी नहीं हो रही है। लगातार दूसरे दिन 594 नए रोगियों की पहचान हुई। 23 मोहल्लों में चार से ज्यादा लोग पॉजिटिव हुए। अप्रैल के आठ दिन में 26 हजार 60 लोगों की जांच हुई और 3375 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई यानी हर 100 सैंपल पर 13 संक्रमित मिले। गुरुवार की बात करें तो 3549 लोगों की जांच हुई।
इधर 594 संक्रमित हुए। यानी हर 100 सैंपल पर औसत 17 लोग कोरोना की चपेट में आए। नए मरीजों के मिलते की जिले में कुल संक्रमितों की संख्या 26737 पर पहुंच गई है। 65 फीसदी एक्टिव केस बढ़े हैं। 31 मार्च को जिले में 1130 एक्टिव रोगी थे। आठ दिन में संख्या बढ़कर 3335 पहुंच गई है। हल्की राहत है कि गुरुवार को दिनभर में 220 लोग एक साथ डिस्चार्ज हुए तो ठीक होने वालों के आंकड़े 23033 पर पहुंचे हैं।
संभागीय कोविड अस्पताल में मरीजों की संख्या हर दिन बढ़ती जा रही है। 8 दिन में 123 मरीज भर्ती हुए हैं। 11 ने दम तोड़ा है। 31 अप्रैल को अस्पताल में कुल मरीजों की संख्या 1806 थी जो अब बढ़कर 1929 पर पहुंच गई है। हालांकि मरीज ठीक भी हो रहे हैं। अब तक 1653 लोग स्वस्थ होकर चले गए हैं। वहीं 138 लोगों की मृत्यु हुई है। 57 को यहां से रेफर किया गया। वहीं 81 मरीजों का इलाज चल रहा है।
गुरुवार को शहर के अस्पताल में 9 मरीजों ने दम तोड़ दिया। इनमें छह जिले के व तीन दूसरे जिले के रहने वाले हैं। अब जिले में दम तोडऩे वालों की संख्या 369 पर पहुंच गई है। 8 दिन में 40 मरीजों ने जिंदगी गंवाई। क्रांति नगर निवासी 87 वर्षीय जोन जेकब, रामायण चौक 72 वर्षीय शाहजहां खान, बंधवापारा हेमू नगर 68 वर्षीय बाबूलाल, यदुनंदन नगर 62 वर्षीय ईश्वर प्रसाद, महामाया पार्क कॉलोनी मंगला निवासी 39 वर्षीय सविता गंधर्व, कुदुदंड 84 वर्षीय विनोद श्रीवास्तव, करीबधाम 50 वर्षीय अनिता चंद्राकर कोरबा 60 वर्षीय गुलापा बाई, मरवाही 50 वर्षीय संतोष वस्त्रकार ने दम तोड़ा।
दिनभर में पुलिस ने 445 पर की कार्रवाई
पुलिस ने बिना मास्क, सोशल डिस्टेसिंग का पालन नहीं करने वाले तथा सार्वजनिक स्थानों पर थूकने वाले 445 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की। यह कार्रवाई सभी थाना क्षेत्रों में हुई। बिना मॉस्क के घूमने वाले 120 पकड़े गए। इनमें से 60 हजार रुपए वसले गए। इसी तरह सोशल डिस्टेसिंग का पालन नहीं करने वाले 201 लोग चालान किए गए। इनसे 40 हजार 800 रुपए वसूल किया गया। इसी तरह सार्वजनिक स्थानों पर थूकने वालों से 124 लोगों से 12400 रुपए वसूल किए गए।