हरिद्वार/इन्दौर । हरिद्वार कुंभ मेले में प्रथम शाही स्नान के लिए श्री डाकोर-इन्दौर खालसा की भव्य शोभायात्रा बैरागी अखाड़ा रोड कनखल से हर की पौड़ी तक निकाली गई। अ.भा. दिगंबर अणि अखाड़े के दूसरे नंबर वाले डाकोर-इन्दौर खालसा में टीला गदाचार्य मंगला पीठाधीश्वर स्वामी माधवाचार्य महाराज एवं हंस पीठाधीश्वर श्रीमहंत स्वामी रामचरण दास महाराज के सान्निध्य में देश के जाने-माने संत-महात्मा, महामंडलेश्वर एवं विद्वतजन भी शामिल थे।
डाकोर-इन्दौर खालसा के पं. पवनदास ने बताया कि इस बार हरिद्वार कुंभ में पहला शाही स्नान 6 अप्रैल को हो चुका है। दूसरा स्नान आज सोमवती अमावस्या पर हुआ। अब तीसरा स्नान 14 अप्रैल को एवं चौथा शाही स्नान चैत्र पूर्णिमा 27 अप्रैल को होगा। आज के शाही स्नान में इन्दौर एवं मालवांचल के अनेक प्रमुख संत-विद्वान भी शामिल थे। सुबह करीब 10 बजे अखाड़ों के साथ निकली पेशवाई करीब 3 किलोमीटर की दूरी तय कर दोपहर 12 बजे हर की पौड़ी पहुंची, जहां परंपरागत विधान से संतों ने शाही स्नान किया।
डाकोर-इन्दौर खालसा का शिविर बैरागी अखाड़ा रोड कनखल हरिद्वार पर चल रहा है। यहां प्रतिदिन संतों एवं भक्तों के लिए भंडारे का आयोजन भी जारी है। इन्दौर एवं मालवांचल से आने वाले भक्तों के लिए शिविर में आवास एवं भोजन की समुचित व्यवस्था की गई है।