13 मार्च, 2021 को दर्श अमावस्या पड़ रही है। यूं तो अमास्या पर चंद्रमा की पूजा की जाती है। दर्श अमावस्या की बात करें इस दिन भी चाहे चंद्रमा आसमान में पूरी तरह से लुप्त होते हैं, लेकिन इनकी पूजा से संपूर्ण फल प्राप्त होता है। लेकिन चूंकि इस बार दर्श अमावस्या शनि वार को पड़ रही है, इसलिए इस दिन शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए हनुमान जी के कुछ मंत्रों का जप करना भी लाभदायक माना जा रहा है। जानते हैं हनुमान जी के अद्भुत मंत्र-

इससे पहले आपको बता दें दर्श अमावस्या तिथि का प्रांरभ-
मार्च 13, 2021, शनिवार- दर्श अमावस्या, फाल्गुन अमावस्या

फाल्गुन, कृष्ण अमावस्या- प्रारम्भ - 03:02 पी एम, मार्च 12
फाल्गुन, कृष्ण अमावस्या- समाप्त - 03:50 पी एम, मार्च 13

शनिवार का दिन भगवान बजरंगबली को समर्पित है। इस दिन इन 5 मंत्रों से किया जा सकता है पवनपुत्र को प्रसन्न....

1.ॐ अं अंगारकाय नमः'

2.मनोजवं मारुततुल्यवेगं, जितेन्द्रियं बुद्धिमतां वरिष्ठ।
वातात्मजं वानरयूथमुख्यं, श्रीरामदूतं शरणं प्रपद्ये॥

3.ॐ हं हनुमते नम:

4.अतुलितबलधामं हेमशैलाभदेहं दनुजवनकृशानुं ज्ञानिनामग्रगण्यम्।
सकलगुणनिधानं वानराणामधीशं रघुपतिप्रियभक्तं वातजातं नमामि॥

5.ॐ हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट