बिलासपुर । राज्य के वन मंडल बिलासपुर अंतर्गत कानन पेण्डारी जूलॉजिकल गार्डन में आज 8 अप्रैल को कोविड-19 के मानक का पालन करते हुए राष्ट्रीय चिड़ियाघर दिवस मनाया गया। इस दौरान चिड़ियाघर प्रबंधन के महत्व पर चर्चा करते हुए कानन पेण्डारी जू के 6 कर्मचारियों  सरोज साहू, कलेश साहू,  लव सिंह उईके, मुकेश यादव, श्रीमती मोहर बाई तथा श्रीमती गीता भार्गव को पुरस्कृत किया गया। साथ ही 69 जू कीपर्स को भी उनके अच्छे कार्य प्रबंधन के लिए प्रोत्साहित किया गया।

कार्यक्रम में मुख्य वन संरक्षक (वन्य प्राणी) तथा क्षेत्र संचालक अचानकमार टायगर रिजर्व अनिल सोनी ने चर्चा करते हुए कि जू कीपर्स तथा कर्मचारियों का वन्य प्राणियों के प्रति लगाव होना आवश्यक है। उन्होंने चिड़ियाघर में आने वाले पर्यटकों को वन्य प्राणियों का महत्व, उनके व्यवहार, दिनचर्या आदि की जानकारी भी देने के लिए जू कीपर्स को प्रेरित किया। उन्होंने वन्य प्राणियों की सुरक्षा तथा प्रबंधन में जू के समस्त अधिकारियों तथा कर्मचारियों सहित जू कीपर्स को भरपूर योगदान देने के लिए विशेष जोर दिया। इसी तरह वन मंडलाधिकारी बिलासपुर  कुमार निशांत ने राष्ट्रीय चिड़ियाघर दिवस की महत्ता के बारे में अवगत कराया गया। अधीक्षक कानन पेण्डारी जूलाजिक गार्डन  संजय लोथरा द्वारा भी राष्ट्रीय चिड़ियाघर दिवस के बारे में अपने विचार व्यक्त किए गए। इस दौरान गोराल, सिका हिरण, चिंकारा, सूकर हिरण क्षेत्र के मध्य ग्रीन जू के अंतर्गत वृक्षारोपण भी किया गया।