डॉक्टर पर तानी रिवॉल्वर, लेबर को मारकर भगाया; शिकायत करने पर पुलिस ने दोनों पक्षों पर दर्ज कर दी FIR

विक्टोरिया अस्पताल के रिटायर्ड सिविल सर्जन डॉक्टर जीपी चौबे मदनमहल थाने में शिकायत दर्ज कराते हुए।
मदनमहल पुलिस का दावा, दोनों पक्षों में आपस में हो गया है समझौता
2004 में एक विधायक के घर के बगल में प्लाट खरीदने और वहां निर्माण कराने पर हुआ विवाद

बरगी की पूर्व विधायक प्रतिभा सिंह के दबंग बेटे नीरज सिंह और समर्थक धन सिंह ने डॉक्टर जीपी चौबे की कनपटी पर रिवाल्वर तान दी। आरोपियों ने मकान निर्माण के लिए बुलाए गए लेबरों को भी मारपीट कर भगा दिया। मामले में डॉक्टर जीपी चौबे ने मदनमहल थाने में शिकायत दी। पुलिस ने 24 घंटे बाद FIR दर्ज की। लेकिन आरोपियों की ओर से भी काउंटर प्रकरण दर्ज कर लिया।

डॉक्टर जीपी चौबे विक्टोरिया अस्पताल में सिविल सर्जन रह चुके हैं। उन्होंने वर्ष 2004 में विद्या ठाकुर और अभय ठाकुर से राइट टाउन स्थित प्लॉट 110/02 खरीदा था। बीते बुधवार को उनके कर्मचारी मकान निर्माण के लिए प्लाट पर पहुंचे, तो वहां मौजूद नीरज सिंह और धन सिंह ने धमकी देकर भगा दिया। इसकी जानकारी होने पर डॉक्टर मौके पर पहुंचे। उनका दावा है कि आरोपी नीरज सिंह ने उनकी कनपटी पर रिवाॅल्वर तान दी। इसके बाद डॉक्टर जीपी चौबे शिकायत करने मदनमहल थाने पहुंचे। टीआई नीरज वर्मा ने शिकायत जांच के नाम पर रख लिए।

पूर्व विधायक के बेटे की ओर से समर्थक ने दर्ज कराई शिकायत

गुरुवार को नीरज सिंह की ओर से धनसिंह भी थाने पहुंचा। उसने शिकायत दी कि डॉक्टर चौबे और अस्सू खान मकान निर्माण कराने के लिए पहुंचे थे। अस्सू खान ने पिस्टल दिखाकर उसे धमकाया है। ये रिपोर्ट मिलने के बाद मदनमहल पुलिस ने दोनों पक्षों की शिकायत पर एक-दूसरे के खिलाफ धमकाने का प्रकरण दर्ज कर लिया। टीआई नीरज वर्मा के मुताबिक दोनों पक्षों के बीच पूर्व विधायक प्रतिभा सिंह की पहल पर बातचीत हो गई है। वे समझौता करने को तैयार हो गए हैं। लिखकर देंगे तो प्रकरण में खात्मा लग जाएगा।