मुंबई। बॉलीवुड एक्ट्रेस जरीन खान ने अपने करियर की शानदार शुरुआत की थी, लेकिन फिल्म इंडस्ट्री में अपनी अच्छी जगह नहीं बना सकीं। उन्होंने कहा कि वह 'एक सुंदर चेहरे से बहुत अधिक' हैं, और उन्हें कभी भी कैटरीना कैफ जैसी लुकिंग से बाहर निकलने का मौका ही नहीं दिया गया। 2010 में सलमान खान की ‘वीर’ के साथ अपने बॉलीवुड करियर की शुरुआत करने वाली जरीन ने सलमान की को-स्टार रह चुकीं कैटरीना के साथ अपनी शारीरिक समानता के लिए उस समय जमकर सुर्खियां बटोरी थीं। उन्होंने कहा कि, इस नैरेटिव को बढ़ावा देने में दर्शक भी दोषी हैं। उन्होंने बताया, ‘हां, शुरुआत में, यह पूरी तरह से एक जैसी दीखने वाली बात थी । ईमानदारी से, मुझे भी यह नहीं पता है कि यह कहां से बाहर आया था। यहां तक ​​कि मेरी तस्वीरों या मेरे इंटरव्यू के पहले से, मेरे फेसबुक अकाउंट की एक रैंडम इमेज इस दावे के साथ सर्कुलेट की जा रही थी कि वे कैटरीना कैफ की तरह दिखती हैं।’
  उन्होंने कहा, ‘तब, सोशल मीडिया आज की तरह शक्तिशाली नहीं था, और हम मीडिया घरानों और समाचार पत्रों पर बहुत अधिक निर्भर थे। इसलिए, मुझे लगता है कि जनता को वास्तव में मुझे देखने और खुद से कोई परसेप्शन बनाने का मौका नहीं मिला। दर्शकों के सामने उन्हें यह गपशप के रूप में पेश किया गया। हमारे दर्शक भी इस मामले में थोड़े भोले हैं कि उनके सामने, जो कुछ भी पेश किया जाता है, वे उसी पर भरोसा कर लेते हैं और अपनी खुद की कोई परसेप्शन नहीं बनाते हैं।’ उन्होंने बताया कि, उनका वजन भी एक मुद्दा बन गया। जैसे कि कोई व्यक्ति 100 किलोग्राम वजन का होता है और हमेशा खुद को 'मोटा' समझता है, ज़रीन ने कहा कि वह हैरान थी कि 40 किलोग्राम वजन कम करने के बाद भी मुझे मोटी कहा जा रहा था। मुझे 'फैटरीना' तक कहा जाता था। जब मैं इवेंट्स के लिए बाहर जाती थी, तब भी मेरे बारे में कुछ भी अच्छा नहीं लिखा गया था, वे केवल मेरे वजन के बारे में बात करते थे। जरीन ने कहा कि इसका उनके दिमाग पर प्रभाव पड़ा था और उन्हें 'लगातार अच्छा नहीं होने का एहसास' दिलाया जाता था। जरीन हॉरर फिल्मों- हेट स्टोरी 3 और 1921 में भी दिखाई दी थीं।